संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए

66

सामाजिक विपणन एक कम्पनी के उपभोक्ताओं को चाहता है, कम्पनी की आवश्यकताओं, और समाज के दीर्घकालिक हितों पर विचार करके रखती है। सामाजिक विपणन अवधारण, संगठन के कार्य जरूरतों का निर्धारण करने के लिए है। सामाजिक विपणन सामाजिक अवधारणाओं के लिए विशिष्ट व्यवहार लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए, अन्य अवधारणाओं और तकनीकों के साथ-साथ विपणन का व्यवस्थित अनुप्रयोग है। सामाजिक विपणन का उपयोग पर्यावरणीय मुद्दों जैसे स्थायी वानिकी, पानी की खपत को कम करने, गैर-स्रोत जल प्रदूषण को खत्म करने, उर्वरक अपवाह को कम करने और ऑटोमोबाइल निष्क्रियता को पर्यावरण क्षेत्र के बाहर अन्य सामाजिक विपणन के उदाहरण हैं जो धूम्रपान छोड़ने और सुरक्षा बेल्ट पहनने को प्रोत्साहित करते हैं। सामाजिक विपणन दृष्टिकोण उन बाधाओं को पहचानता है जो व्यक्तियों को किसी गतिविधि में संलग्न होने से रोकता है, साथ-ही-साथ उन्हें कार्य करने के लिए प्रेरित करता है।

(ii) आनलाइन विपणन-ऑनलाइन विपणन इंटरनेट के माध्यम से उत्पादों और सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए उपयोग किए जाने वाले टूल्स और कार्यप्रणाली का एक सेट है। ऑनलाइन विपणन को इंटरनेट मार्केटिंग, वेब मार्केटिंग, डिजिटल मार्केटिंग, और सर्व इंजन मार्केटिंग के रूप में भी जाना जाता है।

• ऑन लाइन विपणन के लाभ हैं

• क्षमता में वृद्धि

• खर्चों में कमी

• सुरुचिपूर्ण कम्युनिकेशन

• बेहतर नियंत्रण

• बेहतर ग्राहक सेवा

● प्रतिस्पर्धात्मक लाभ ।

(iii) प्रत्यक्ष विपणन-प्रत्यक्ष विपणन विज्ञापन का एक प्रकार है जिसमें उत्पादक अथवा सेवा प्रदाता, अपने उपभोक्ता से विविध माध्यमों से सीधे सम्पर्क करते हैं, उदाहरणार्थ, ई-मेल, टेलीफोन इत्यादि के द्वारा इसकी तकनीकी परिभाषा है, ‘प्रत्यक्ष विपणन अंतर्संक्रिय विपणन प्रणाली है जिसमें मापनीय प्रयुत्तर और लेन-देन हेतु एक अथवा एक से अधिक विज्ञापन माध्यम का प्रयोग किया जाता है।

(iv) हरित विपणन-हरित विपणन की धारणा यह है कि संभावित, उपभोक्ता किसी उत्पाद या सेवा की ‘हरियाली’ को लाभ के रूप में देखता है और उसके अनुसार अपने खरीद निर्णय को आधार बनाता है। उपभोक्ता हरे उत्पादों के लिए अधिक भुगतान करने के लिए तैयार हो सकते हैं, क्योंकि वे कम हरे उत्पाद के लिए अधिक भुगतान करेंगे।

हरित विपणन उन उत्पादों का विपणन है जिन्हें पर्यावरण को दृष्टि से सुरक्षित माना जाता है। इसमें उत्पाद संशोधन, उत्पादन प्रक्रिया में परिवर्तन, टिकाऊ पैकेजिंग, साथ ही विज्ञापन को संशोधित करने सहित गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला शामिल है।