XETO OFFICIAL

LEADING NEWS & MEDIA WEBSITE OF INDIA NATIONAL.

दादाजी ने छोटी बहू के अलावा घर के सभी सदस्यों को बुलाकर क्या समझाते हैं?

1 min read

दादाजी छोटी बहू के अलावा घर के सभी को बुलाकर समझाते हैं कि उन सबको छोटी बहू के साथ मिलकर रहना चाहिए। उसकी शिक्षा व समझदारी का लाभ उठाना चाहिए और ऐसी कोई बात नहीं करनी चाहिए जिससे उसे परेशानी हो। वे सभी को कहते हैं कि कोई भी उम्र में, दर्जे में बड़ा नहीं होता, बड़ा तो बुद्धि और योग्यता से होता है। चाहे उम्र में छोटी बहू छोटी है पर वह उन सबसे बड़ी है। उसे जो आदर सत्कार अपने घर में मिलता था, वही इस घर में भी मिले। उसका काम सभी आपस में बाँट लें और उसे पढ़ने-लिखने का अधिक अवसर मिले। उसे यह अनुभव न हो कि वह किसी दूसरे घर में है। दादा जी सभी को चेतावनी भी देते हैं कि अगर किसी ने छोटी बहू का निरादर किया तो उनसे उनका नाता हमेशा के लिए टूट जाएगा।

मूल्यांकन शैली कितने प्रकार की होती है? उसे उदाहरण सहित समझाइए ।